Brahma Kumari Sister Rupa Honored with National Florence Nightangale Award 2018 at President House

635

Delhi:  J. P. Nadda, Minister of Health and Family Welfare, Govt. of India conferred the Florence Nightingale Awards to  BK Rupa Upadhye, Chief of Nursing Services, J.W Global Hospital, Mount Abu.

Sister Rupa was instrumental in developing a clinical skill lab in the hospital. She is the first female nurse in India for High Altitude Medical Rescues Operations and had special training by Indo-Tibetan Border Police Force.She had rescued 5600 victims in hazardous conditions in hilly areas.  She has participated in many health rallies and health awareness programmes. Her passion and selfless service in nursing and people of India are highly commendable. After leaving voluntarily the government service from Mumbai, she works as nursing officer for the past 26 years on honorary basis in the  J.W Global Hospital, managed by Brahma Kumaris, for the past 26 years, in Mount Abu.

The President of India, Ram Nath Kovind, was the Chief Guest at the International Nurses Day Celebrations organized by the Ministry of Health and Family Welfare at Rashtrapati Bhawan, here today. At the function, Shri J P Nadda, Union Minister of Health and Family Welfare conferred the Florence Nightingale Awards to 35 nurses from across the country in presence of Shri Ashwini Kumar Choubey, Minister of State for Health and Family Welfare and Smt Preeti Sudan, Secretary (Health). 

The President congratulated the award winners and said that the awardees display India’s unity in diversity. He further stated that nursing plays a very vital role in keeping the country healthy. “Any nurse, in a remote village, who is helping a person fight a serious illness, is a nation builder,” the President said.
 
Minister for Health and Family Welfare, Shri J P Nadda congratulated the award winners and appreciated their exemplary services. Acknowledging the strong caring and compassionate attitude of the nursing community, the Health Minister said that we are proud of all the winners and wish that they will be an inspiration for all the nursing personnel in the country and motivate them to provide quality nursing services and standards.
Florence Nightingale awards were instituted in the year 1973 by the Government as a mark of recognition for the meritorious services rendered by nurses to the society. These awards are given on 12th May every year. A total of 35 awards i.e. 20 for Nurses, 12 for Auxiliary Nurse Mid-wives and 3 for Lady Health Visitors are being awarded to outstanding Nursing Personnel. The award carries a medal, a certificate, a citation certificate and Rs. 50,000/-in cash to each of the awardees.

Also present at the award ceremony were, Shri Arun Singhal, Additional Secretary (Health), Shri Sanjeeva Kumar, Additional Secretary (Health) and Dr RK Vats, AS & DG (CGHS)  along with other senior officers and invitees.

Hindi News:

बीके रूपा उपाध्याय  को राष्ट्रपति ने किया सम्मानित 
 
माउंट आबू। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने अंतर्राष्ट्रीय नर्स दिवस पर नई दिल्ली में आयोजित कार्यक्रम में ग्लोबल अस्पताल एवं अनुसंधान केंद्र माउंट आबू की मुख्य परिचारिका सुश्री बीके रूपा उपाध्याय को फ्लोरेंस नाइटिंगल पुरुस्कार से सम्मानित किया। 
 
सुश्री बीके रूपा  उपाध्याय की ग्लोबल अस्पताल में ढाई दशक से भी अधिक समय से दी जा रही नि:स्वार्थ सेवाओं को देखते हुए फ्लोरेंस नाइटिंगल पुरुस्कार के लिए राज्य सरकार की ओर से चयनित किया गया था। जिसके तहत नई दिल्ली में देश के विभिन्न राज्यों से चिकित्सा के क्षेत्र में उत्कृष्ट सेवायें देने पर चयनित परिचारिकाओं को राष्ट्रपति कोविंद की ओर से सम्मानित किया गया। राष्ट्रपति कोविंद ने सुश्री उपाध्याय से ब्रह्माकुमारी संगठन की गतिविधियों की भी जानकारी ली।
 
इस अवसर पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जे.पी. नढ्ढा, ग्लोबल अस्पताल निदेशक डॉ. प्रताप मिढ्ढा आदि भी उपस्थित थे। 
 
बेस्ट नर्स ऑफ द ईयर से भी सम्मानित
 
ज्ञातव्य है कि इससे पूर्व गत दिनों मुख्य परिचारिका बीके रूपा उपाध्याय को नई दिल्ली प्राइड ऑफ द नेशन कार्यक्रम के तहत ऑस्कर ऑफ हेल्थ केयर सिक्स सिग्मा एक्सीलेंस अवार्ड से नवाजा जा चुका है। राष्ट्रीय स्तर पर की गई उत्कृष्ट सेवाओं के तहत घोषित बेस्ट नर्स ऑफ द इयर सुश्री उपाध्याय को इस अवार्ड से मिस वल्र्ड मानुषी छिल्लर, हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा, सांसद डॉ. कीर्ति सोलंकी, एयरमार्शल पवन कपूर, सिक्स सिग्मा हेल्थ केयर डायरेक्टर डॉ. प्रदीप भारद्धाज की ओर से नवाजा गया। चिकित्सा जगत से जुड़ी मिर्स वल्र्ड, डॉ. छिल्लर ने कहा कि चिकित्सा के क्षेत्र में ग्लोबल अस्पताल की ओर से की जा रही सेवायें सराहनीय हैं। दूसरों के दु:ख दर्द को मिटाने में सदैव अग्रणी भूमिका निभाने वाले चिकित्सक मरीजों के लिए मसीहा होते हैं।
 
सुश्री उपाध्याय का किया अभिनंदन
 
राष्ट्रपति के हाथों सम्मानित होने पर सुश्री उपाध्याय के माउंट आबू पहुंचने पर ब्रह्माकुमारी संगठन के अंतर्राष्ट्रीय मुख्यालय में अभिनंदन समारोह का आयोजन किया गया। जहां खेल प्रभाग उपाध्यक्ष बीके शशि बहन, शिक्षा प्रभाग उपाध्यक्ष बीके शीलू बहन, राजयोग प्रशिक्षिका बी के कमलेश बहन, ग्लोबल अस्पताल के प्रशासनिक अधिकारी बीके महेंद्र भाई, डॉ. इंदू बहन आदि ने सुश्री उपाध्याय का फूल-मालाओं के साथ अभिनंदन कर अपने विचार व्यक्त किए।
फोटो —
माउंट आबू। राष्ट्रपति सम्मान प्राप्त करने के बाद राष्ट्रपति कोविंद के साथ परिचारिका सुश्री बीके उपाध्याय।
माउंट आबू। बेस्ट नर्स ऑफ इ इयर सम्मान से नवाजते अतिथिगण।
माउंट आबू। सुश्री उपाध्याय का अभिनंदन करती बीके शशि बहन, शीलू बहन, कमलेश बहन।