Doctorate Degree to Dadi Hridaya Mohini, Addl. Chief of Brahma Kumaris

311

Mount Abu / Abu Road: ​Prof. Prafulla Kumar Mishra, the Vice Chancellor of North Odisha University, Baripada, Mayurbhanj, Odisha (India) conferred on Dadi Hirdaya Mohini Ji, the Additional Chief of Brahmakumaris, the degree of Doctor of Literature (honoris causa) for her contribution towards spreading the message of values, spirituality and social service in her unique role as a messenger of the Incorporeal God.

While conferring the degree during the 5-day (26 to 30th March, 2017) International – cum Cultural Festival on the occasion of the 80th Anniversary celebration of the Brahmakumris in Diamond Hall of its Shantivan Campus, Prof. Mishra said, praising the noble contribution of Dadi Hridayamohini Ji. ”It is a matter of glory for the University to confer the degree on her. I personally feel great and glorious in conferring this here on this grand celebration of 80th Anniversary of the Brahmakumaris organisation, which is engaged whole heartedly in its exemplary work of spreading the message of love, universal brotherhood, values, spirituality and world peace.”

दादी हृदयमोहिनी को डॉक्टर ऑफ लिटरेचर की उपाधि से किया विभूषित 

– नॉर्थ उड़ीसा विश्वविद्यालय ने प्रदान की डिग्री

आबूरोड, सिरोही (राजस्थान) 28 मार्च। प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय की अतिरिक्त मुख्य प्रशासिका राजयोगिनी दादी हृदयमोहिनी जी को नॉर्थ उड़ीसा विश्वविद्यालय​,​ बारीपाड़ा ने डी. लिट (डॉक्टर ऑफ लिटरेचर) की उपाधि से विभूषित किया है। दादी को यह उपाधि उड़ीसा में प्रभु के संदेशवाहक के रूप में लोगों में आध्यात्मिकता का प्रचार-प्रसार करने और समाजसेवा के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान पर प्रदान की गई।

संस्था की 80वीं वर्षगांठ पर संस्था के मुख्यालय माउण्ट आबू, आबू रोड के शांतिवन में आयोजित अंतरराष्ट्रीय महासम्मेलन एवं सांस्कृतिक महोत्सव में 28 मार्च ​2017 ​को नॉर्थ उड़ीसा विश्वविद्यालय बारीपाड़ा के कुलपति प्रो. प्रफुल्ल कुमार मिश्रा ने उपाधि प्रदान की। उन्होंने दादी के कार्यों की सराहना करते हुए इसे गौरव का विषय बताया। कुलपति मिश्रा ने कहा कि मैं आज यह डिग्री दादी को देते हुए बहुत ही गौरवान्वित महसूस कर रहा हूं। संस्था विश्व शांति, प्रेम, भाईचारा और आध्यात्मिकता के क्षेत्र में जो कार्य कर रही है वह अनुपम उदाहरण है।

Honorary D. Litt. to Dadi Gulzar.pdf