Indore: Media Conference on occasion of 1st Ascension Anniversary of Former Chairperson of Media Wing B.K. Om Prakash Bhaiji

1121

A Media Conference has been organised at Brahma Kumaris IVV, Gyan Shikhar  Complex, New Palasia on occasion of 1st Ascension Anniversary of Brahma Kumar Omprakash Bhai, Former Chairperson of Media Wing of R.E.R.F., Mr. Sumit Awasthi, Dy. Managing Editor, IBN7 Channel, Delhi, Dr. Man Singh Parmar, Vice Chancellor, Kushabhau Thakre National University of Journalism and Mass Communication, Raipur, Anand Pandey, Group Editor of Nai Duniya Daily, Madhukar Dwivedi, Senior Journalist, Prof. Kamal Dixit, Editor Rajikhushi Magazine and other senior Journalists addressed the conference.

प्रेस विज्ञप्ति
बिना कुछ सोचे समझे सोशल मीडिया में जानकारी फारवर्ड न करें…
-सुमित अवस्थी, वरिष्ठ पत्रकार दिल्ली

इन्दौर, 23 दिसम्बर, 2016। वरिष्ठ पत्रकार सुमित अवस्थी ने कहा कि स्वतंत्रता के बाद से मीडिया में बहुत बदलाव आया है। विशेषकर ट्वीटर, फेस बुक और व्हाट्स एप जैसी सोशल मीडिया के आने से हरेक अपने आपको पत्रकार समझने लगा है। जो भी जानकारी उनके पास आती है, उसे वह बिना कुछ सोचे समझे दूसरों को अग्रेषित कर देते हैं। यह बातें समाज के लिए बहुत घातक है।
श्री सुमित अवस्थी आज प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय के इन्दौर जोन के संस्थापक एवं मीडिया प्रभाग के राष्ट्रीय अध्यक्ष रहे ब्रह्माकुमार ओमप्रकाश भाईजी की प्रथम पुण्य तिथि पर आयोजित मीडिया सम्मेलन में अपने विचार रख रहे थे। विषय था-मूल्य आधारित समाज के निर्माण में मीडिया की भूमिका। उन्होंने आगे कहा कि हमें अपनी जिम्मेदारी को समझना होगा। कोई भी जानकारी आए तो उसकी जांच करें फिर उसे किसी अन्य को भेजें। अन्यथा किसी का जीवन भी बरबाद हो सकता है। उन्होंने बतलाया कि पत्रकार भी इसी समाज का हिस्सा होते हैं। इसलिए जब समाज का पतन होता है तो उसका कुछ असर पत्रकारों पर पड़ना स्वाभाविक है। दिक्कत यह होती है कि हम अपने को नहीं देखते हैं और मीडिया से अपेक्षा करने लगते हैं कि वह समाज में बदलाव लाए। यह कार्य अकेले मीडिया द्वारा सम्भव नहीं है। हम सबको मिलकर अपने अन्दर मानवीय मूल्यों को पुर्नस्थापित करना होगा।
उन्होंने कहा कि इलेक्ट्रानिक मीडिया पर बाजारवाद हावी हो गया है। वह वही चीजें दिखाता है जो कि लोग देखना चाहते हैं। यदि लोग अच्छी बातें देखना पसन्द करेंगे तो इलेक्ट्रानिक मीडिया भी बाध्य होकर सकारात्मक चीजें ही दिखाने लगेगा। किन्तु इसके लिए लोगों को अपनी रूचि में परिवर्तन लाना होगा।
कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए कुशाभाउ ठाकरे पत्रकारिता एवं जनसंचार विश्वविद्यालय रायपुर के कुलपति डां. मानसिह परमार ने कहा कि प्रिन्ट मीडिया की बजाय इलेक्ट्रानिक मीडिया में गम्भीरता का अभाव दिखता है। चूॅंकि चित्रों का हमारे मानस पटल पर गहरा प्रभाव पड़ता है। इसलिए इलेक्ट्रानिक्स मीडिया को अपनी जिम्मेदारी समझकर गम्भरता के साथ काम करना होगा। उन्होंने इन्दौर शहर को पत्रकारिता की नर्सरी बतलाते हुए कहा कि यहाॅं से प्रशिक्षित पत्रकार आजकल पूरे देशभर में अच्छा काम कर रहे हैं।
क्षेत्रीय निदेशिका ब्रह्माकुमारी कमला दीदी ने अपने आशीर्वचन में कहा कि आज समाज में भौतिक सुख के अनेक साधन मौजूद हैं लेकिन मानवीय मूल्यों का अभाव होने से जीवन दूभर होता जा रहा है। जीवन में मानवीय मूल्य आध्यात्मिकता से आती है। उन्होंने पत्रकारों से राजयोग मेडिटेशन सीखने के लिए आह्वान किया।
नई दुनिया के समूह सम्पादक आनंद पांडे ने कहा की मीडिया को जो वास्तविक भूमिका निभानी चाहिए वह निभा नही रही है। हमारी अस्मिता दो बातों पर टिकी हूई है एक तो अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता और दूसरी बात है वैचारिक मंथन। अगर इन विषयों पर चर्चा हूई तो निश्चित ही मूल्यनिष्ठ पत्रकारिता संभव है।

मासिक पत्रिका राजीखुशी के सम्पादक प्रो कमल दीक्षित ने कहा कि समाज ने तकनीक के क्षेत्र में बहुत तरक्की की है। संसाधनों में हम आगे बढ़े है किन्तु मानवीय मूल्य तिरोहित हो रहे हैं। वर्तमान समय मीडिया को बाजार नियंत्रित कर रहा है।
इस मीडिया सम्मेलन में बड़ी संख्या में पिं्रट, इलेक्ट्राॅनिक और सोशल मीडिया से जुड़े पत्रकार, संवाददाता, प्रसार माध्यम और टी.वी. चैनल से जुड़े मीडियाकर्मी तथा लेखक कवि, चिंतक, विचारक और साहित्यकार उपस्थित थे।
सम्मेलन को इन्दौर प्रेस क्लब के अध्यक्ष अरविंद तिवारी, ई. टी. वी. छत्तीसगढ़ की प्रियंका कौशल, वरिष्ठ पत्रकार मधुकर द्विवेदी, इन्दौर जोन की मुख्य क्षेत्रीय समन्वयक ब्रह्माकुमारी हेमलता और भिलाई सेवाकेन्द्र की ब्रह्माकुमारी आशा ने भी सम्बोधित किया। आभार प्रदर्शन ब्रह्माकुमारी अनीता बहन ने किया।
जानी-मानी गीता विद ब्रह्माकुमारी उषा दीदी का व्याख्यान आज टेलिविजन पर गीता ज्ञान के सत्य स्वरूप् तथा सार पर अपने विद्वतापूर्ण प्रवचन से लोगों को प्रभावित करने वाली ब्रह्माकुमारी उषा दीदी माउण्ट आबू से 24 दिसम्बर को विमान से आएंगी। 25 दिसम्बर को शाम को 5 बजे न्यू पलासिया स्थित ज्ञान शिखर भवन में उनका व्याख्यान होगा। उनके साथ मुम्बई से व्यापार एवं उद्योग प्रभाग की राष्ट्रीय समन्वयक ब्रह्माकुमारी योगिनी बहन भी कल आएंगी।

प्रेषकः ब्रह्माकुमारी अनिता
क्षेत्रीय समन्वयक, मीडिया प्रभाग,इन्दौर
मोंबाईल-94253-16846

Previous articleSeminar on ‘Media for Social Transformation’ at Visakhapatnam (A.P.)
Next article‘Ambassador For Pea​​ce Award – 2016’ to Brahma Kumari Dr. Binny