International Mother Teresa Social Service Award to Dadi Janki, Chief of Brahma Kumaris

99

Abu Road, April 17, 2017: National Human Rights Organisation, Delhi has conferred “International Mother Teresa Social Service Award on  Dadi Janki, the Chief of Brahma Kumaris Organisation for her specific contribution towards promoting Indian culture and human values in the world.
The award was presented by National President of (N H R O) Dr. Mahesh Patel, the first International Mother Teresa awardee and patron of the organisation, Dr Alok Soni and othe senior officials of the organisation at Brahma Kumaris Head Quarter, Abu Road.
Dr. Mahesh Patel,the president of the organisation expressed his views on this occasion, that it was a matter of great pride for us to honour the world famous personality, who has established the example of woman power by illuminating the lamp of humanity.She has created the sense of intimacy among the people throughout the world by promoting Indian culture and values. Dadi Ji has been playing her important role of establishing the woman as symbol of power by representing the first woman-organisation of the world.

During the program Dadi Ji expressed her blessings that first task before the human being is to unify the humanity through brotherhood and forbearance. In this way we can safeguard the humanity and establish a better society. Thereafter, Dadi Ji honored the guests by presenting momentos and shawls.

दादी जानकी को अन्तर्राष्ट्रीय मदर टेरेसा विशिष्ट समाज सेवा का मिला सम्मान

आबू रोड, 17अप्रैल, निसं। प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय की मुख्य प्रशासिका राजयेागिनी दादी जानकी को विश्व में भारतीय संस्कृति तथा मानवीय मूल्यों को बढ़ावा देने के विशेष और सराहनीय कार्यो के लिए राष्ट्रीय मानवाधिकार संगठन दिल्ली के द्वारा अन्तर्राष्ट्रीय मदर टेरेसा विशिष्ट समाज सेवा के सम्मान से नवाजा गया।

यह सम्मान मानवाधिकार संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष डा महेश पटेेल, प्रथम अन्तर्राष्ट्रीय मदर टेरेसा सम्मान से नवाजित तथा संगठन के संरक्षक डॉ आलोक सोनी एवं संगठन के विशिष्ट पदाधिकारियों द्वारा दादी जानकी के आवास पर प्रदान किया गया।

इस अवसर पर संगठन के अध्यक्ष डा महेश पटेल ने कहा कि यह हमारे संगठन के लिए गौरव की बात है कि हम दुनिया की ऐसी विभूति को सम्मानित कर रहे है जिन्होंने नारी शक्ति का मिसाल पेश करते हुए पूरे विश्व में मानवता का दीपक जलाया है। भारतीय संस्कृति और मूल्यों के बीजारोपण से विश्व के कोने कोने के लोगों में आत्मीयता का भाव पैदा किया है। दुनिया में पहली महिला संस्थान का प्रतिनिधित्व करते हुए दादी जी ने नारी को शक्ति स्वरूपा बनाकर एक नयी समाज के निर्माण में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है।

कार्यक्रम में दादीजी ने सभी को आशिवर्चन देते हुए कहा कि यह मनुष्य का प्रथम कर्म होना चाहिए कि वह समस्त मानव जाति को एकता, भाईचारा और सहिष्णुता के धागे में पिराये। इससे ही मानव जाति की रक्षा होगी और एक बेहतर समाज की स्थापना होगी। इसके पश्चात अतिथियों ने दादी को शॉल ओढ़ाकर तथा मोमेटों भेंटकर सम्मानित किया।