National Media Conference at Mount Abu Concludes

388

Mount Abu: The Media Conference-cum-Retreat, 2019 organized in GyanSarovar Academy with the joint collaboration of PrajapitaBrahamaKumarisIshwariyaVishwaVidyalayaand Media Wing (RERF) on the topic, “Media, Spirituality and Social Transformation”concluded with an optimistic note on 15th June, 2019.

Almost 300 media persons including senior journalist, Media Professionals and Academicians associated with print electronic, Cyber and promotional media fields participated in this unique conference very actively.

Deep contemplation, cogitation, discourse, discussion and media communication went on in eight open sessions in the various thought-provokingtopics such as “Empowering Media for Social Transformation”,  “Spirituality – A New  Dimension in Media Profession”, “Role of Social Media in Social Transformation”, “Social Accountability in Today’s Media“ and “Value Centric Media – The Call of Time”. Apart from this, media persons were given the deep experience of inner peace, happiness and bliss through six Experience Sessions on Rajyoga Meditation, Spiritual Discourse and Stress Management.

The conclusions, which are derived after exchange of thoughts and ideas, and the resolutions, which the media persons collectively took in the Valedictory Session,are as follows:

Conclusions:

  1. In the changing environment, meresocial transformation is not enough, because change has been always at surfacial level and will go on like this. But, with this change, yet thestable, holistic and complete welfare of individual is not being made.
  2. Change at the very deeper and root level becomesholistic transformation which is necessary today and which is only possible by assimilating spiritual knowledge, qualities and powers,by their practice and application in thoughts, contemplation and life of the human beings (souls).
  3. In the process of this revolutionary transformation, the role and responsibility of media are very great and significant, because the continuous influence of media on mind of public is very deep, universal and strong.
  4. Therefore, media workers and journalists have to make them strong, able, healthy, prosperous and holistic with assimilation of spiritual powers, inculcation of spiritual values and practicalexperience of noble thoughts and feelings.
  5. For the purpose of public welfare, for the upliftment of the society and for maintaining a perfect balance between social responsibility and professional progress through positive content creation/production and transmission/ broadcast, the media workers and owners have to practise inculcation of spiritual knowledge, universal values,Rajyoga Meditation,healthy, simple and positive lifestyles and also should try their best to propagate these through transmission and broadcast in print, electronic and social media.
  6. The media persons needto eliminate widespread negativities, evils, debauchery, corruption, violence and terror by spreading truth and goodness through integration of values and spirituality in self and journalism.
  7. With the collective consensus of the journalists and media persons present in this conference, suggestionsare also were given to supportthe activities of Brahma Kumaris“Spiritual Awareness Campaign, which is meant for empowering media persons and will also help in arrangingprograms such as get-togethers, seminars, discourses and dialogues organized in districts, cities, metropolitan cities and states levels.

Pledge:

In the Valedictory Session of the mediaconference organized with the joint collaboration of Prajapita Brahma KumarisIshwariyaVishwaVidyalaya and the Media Wing (RERF), we, the media professionals are taking the pledge on June 15, 2019 that we express our assurances for our individual and collective spiritual upliftment and for establishment of core media values, and also pledge to stand for every efforts, which are made in the positive directions of creating peace, goodwill, unity, integrity universal brotherhood and holistic progress of our nation and society.

 


Hindi news 

“साल 2019 मीडिया महासम्मेलन के निष्कर्ष एवं संकल्प पत्र“

प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय के मीडिया प्रभाग द्वारा “मीडिया, आध्यात्मिकता एवं सामाजिक रूपांतरण” के मूल विषय पर 12 से 15 जून 2019 तक आयोजित मीडिया महासम्मलेन संस्था के माउंट आबू स्थित ज्ञान सरोवर एकेडमी परिसर में सपन्न हुआ ।
इस महासम्मलेन में पिं्रट, इलेक्ट्रानिक, साइबर एवं प्रमोशनल मीडिया क्षेत्र से जुड़े लगभग 300 वरिष्ठ पत्रकार, मीडिया प्रोफेशनल्स तथा एकेडमीशियन्स ने सक्रिय रूप से भाग लिया ।
‘सामाजिक रूपांतरण हेतु मीडिया सशक्तिकरण, मीडिया व्यवसाय में एक नया आयाम आध्यात्मिकता’, ‘सामाजिक रूपांतरण में सोशल मीडिया की भूमिका’, ‘आज की मीडिया में सामाजिक जवाबदेहिता‘, ‘मूल्यकेंद्रित मीडिया-समय की मांग’ आदि विषयों पर आठ खुले सत्रों में गहरा मनन चिंतन, विचार-विमर्श तथा मीडिया संवाद हुआ। इसके अतिरिक्त राजयोग मेडिटेशन, आध्यात्मिक वचन एवं तनाव प्रबंधन के ऊपर छः अनुभूति सत्रों के माध्यम से उपस्थित पत्रकारों को आंतरिक शान्ति, सुख और आनंद का गहरा अनुभव कराया गया।
इन खुले सत्रों में विचारों के आदान-प्रदान से जो निष्कर्ष निकला और उसके आधार पर सम्मलेन के समापन सत्र में मीडिया कर्मियों ने संगठित रूप में जो संकल्प लिया वो इस प्रकार है ।
निष्कर्ष
1. आज के बदलते परिवेश में सिर्फ सामाजिक परिवर्तन पर्याप्त नहीं है क्योंकि परिवर्तन हमेशा ऊपरी स्तर पर होता आ रहा है और होता रहेगा। लेकिन इस परिवर्तन से व्यक्ति व समाज का स्थायी, समग्र और सम्पूर्ण कल्याण नहीं हो रहा है।
2. आज जरूरत है भीतरी जड़ से गहरी और आमूल-चूल रुपांतरण की, जो मनुष्य आत्माओं के सोच-विचार, चिंतन, जीवन और कर्म व्यवहार में आध्यात्मिक ज्ञान, गुण और शक्तियों के समावेश, अभ्यास और प्रयोग से ही संभव होगा।
3. इस क्रांतिकारी रुपांतरण की प्रक्रिया में मीडिया की भूमिका और जिम्मेवारी अति महत्वपूर्ण है क्योंकि मीडिया का जन मानस और समाज के ऊपर निरन्तर प्रभाव बहुत ही व्यापक, वैश्विक और शक्तिशाली है।
4. इसलिए मीडिया कर्मी और पत्रकारों को ऐसी सकारात्मक ऊर्जा, आध्यात्मिक मूल्यों, भावनाओं और संवेदनाओ से सशक्त, सक्षम, स्वस्थ, समृद्ध और सम्पन्न बनना होगा ।
5. जनमानस के हित में, समाज के उत्थान में सकारात्माक कंटेंट का निर्माण एवं प्रसारण द्वारा मीडिया का सामाजिक उतरदायित्व और व्यवसायिक प्रगति में संतुलन बनाये रखने के लिए मीडियाकर्मी और मालिकों को आध्यात्मिक ज्ञान, राजयोग ध्यान, वैश्विक मूल्यों, स्वस्थ, सादा एवं सकारात्मक जीवनशैली का अभ्यास एवं प्रचार-प्रसार करना होगा।
6. पत्रकारिता में आध्यात्मिकता का समावेश कर सच्चाई और अच्छाई को बढ़ावा देकर समाज में व्याप्त नकारात्मकता, बुराई, व्यभिचार, भ्रष्टाचार, हिंसा और आतंक को समाप्त करना होगा।
7. मीडिया सम्मेलन में उपस्थित पत्रकारों ने सर्वसम्मति से ये भी निष्कर्ष निकाला कि ब्रह्माकुमारी संस्था द्वारा पत्रकारों तथा मीडियाकर्मियों के आंतरिक सशक्तिकरण हेतु चलायी जा रही आध्यात्मिक जागरुकता अभियान को वे बढ़ावा देंगे तथा देश के विभिन्न जिला, नगर, महानगर एवं राज्य स्तर पर पत्रकार स्नेह मिलन, संगोष्ठी तथा संवाद कार्यक्रम के आयोजन में सहभागी बनेंगे।
संकल्पः-
“प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय के मीडिया प्रभाग के तत्वावधान में संस्था के ज्ञान सरोवर एकेडमी माउण्ट आबू में आयोजित मीडिया महासम्मलेन के समापन सत्र में दिनांक 15 जून 2019 को समग्र भारत से आये हुए हम मीडियाकर्मी यह संकल्प लेते हैं कि हम व्यक्तिगत एवं सामूहिक आध्यात्मिक उत्थान करने हेतु तथा मीडिया के मूलभूत मूल्यों की स्थापना हेतु अपनी प्रतिबद्धता व्यक्त करते हैं और प्रतिज्ञा करते हैं कि देश और समाज को शान्ति, सद्भावना, एकता, भाईचारा और प्रगति की दिशा में ले जाने वाले हर सकारात्मक प्रयासों के साथ खड़े रहेंगे।”

Previous articleNational Media Conference Inaugurated at Mount Abu
Next article40th Service Anniversary of Brahma Kumaris in Brazil, SA