Janakpurdham (Nepal): Media Wing Seminar

20
Janakpurdham Nepal: ब्रह्माकुमारी राजयोग सेवा केंद्र जनकपुर  नेपाल और ब्रह्माकुमारीज मुख्यालय माउंट आबू मीडिया प्रभाग ने संयुक्त रूप से ब्रह्माकुमारी राजयाेग प्रशिक्षण केन्द्र (ॐ शान्ति  मिथिला वाटिका) में पत्रकारों और जनसंचार कार्यकर्ताओं के लिए एक स्वस्थ और खुशहाल समाज के लिए आध्यात्मिकता में मीडिया की भूमिका पर कार्यक्रम का आयोजन किया। मीडिया सेमिनार में नेपाल पत्रकार महासंघ मधेश प्रदेश  के अध्यक्ष राजेश कर्ण, माननीय सांसद रामाशीष यादव , प्रेस काउन्सिल अध्यक्ष कैलाश दास, आम संचार प्राधिकरण के अध्यक्ष  श्याम सुंदर यादव ने सभी के बीच अपनी भावनाओं को खुलकर व्यक्त किया कि उन्हें धीरे-धीरे एहसास हो रहा है कि पत्रकारिता के क्षेत्र में योगाभ्यास अनिवार्य होता जा रहा है। उन्होंने अपनी भावनाओं को व्यक्त किया कि रचनाएं तब तक सकारात्मक नहीं हो सकती जब तक कि मन स्थिर और शांत न हो। उन्होंने इस बात पर प्रकाश डाला कि ब्रह्माकुमारीज़ द्वारा प्रदान किया गया ज्ञान व्यावहारिक और वैज्ञानिकता पर आधारित हैं।
मधेस प्रदेश, नेपाल के माननीय सांसद रामाशीष यादव जी ने कहा की बिना आध्यात्मिकता मानव पशु तुल्य हाेते है,आज के दिन मे विश्व  भर नैतिक शिक्षा  का शिक्षा देके ब्रह्माकुमारी संस्था बहुत नेक कार्य  कर रहा है । 
ब्रह्माकुमारीज की माउंट आबू से पधारे हुए मीडिया प्रभाग के राष्ट्रीय संयोजक राजयोगी डॉ. शांतनु जी ने समाज में मीडिया की भूमिका पर प्रकाश डालते हुए कहा की वर्तमान समय में मीडिया की उपयोगिता, महत्व एवं भूमिका निरंतर बढ़ती जा रही है। कोई भी समाज, सरकार, वर्ग, संस्था, समूह व्यक्ति मीडिया की उपेक्षा कर आगे नहीं बढ़ सकता। आज के जीवन में मीडिया एक अपरिहार्य आवश्यकता बन गया है। 
उन्होंने आगे कहा की लोकतांत्रिक देशों में विधायिका, कार्यपालिका और न्यायपालिका के क्रियाकलापों पर नजर रखने के लिये मीडिया को ‘‘चौथे स्तंभ’’ के रूप में जाना जाता है। मीडिया अगर सकारात्मक भूमिका अदा करें तो किसी भी व्यक्ति, संस्था, समूह और देश को आर्थिक, सामाजिक, सांस्कृतिक एवं राजनीतिक रूप से स्वस्थ, सुखी और समृद्ध बनाया जा सकता है। वर्तमान समय मीडियाकर्मी भी मानसिक तनाव का शिकार हो रहा है ।  इसके लिए  मीडिया कर्मियों को ब्रह्माकुमारीज के राजयोग का अभ्यास करनी चाहिए ।
श्रीमत एक्सप्रेस डेली देहरादून के प्रधान संपादक डॉ. दीन दयाल मित्तल ने कहा कि वैश्विक भाईचारे में मीडिया का बहुत योगदान है और वह घरेलू प्रथाओं में रहते हुए आध्यात्मिक यात्रा में भी शामिल हो सकते हैं। 
हैदराबाद की राष्ट्रीय संयोजक सरला आनंद ने बहुत ही गहन प्रस्तुति दी और कहा कि आध्यात्मिकता के बिना जीवन को संयमित नहीं किया जा सकता है और इसका प्रभाव मीडिया के क्षेत्र में होगा। प्रेस काउन्सिल के अध्यक्ष  कैलाश दास इस क्षेत्र में ब्रह्माकुमारीज द्वारा निभाई गई भूमिका की सराहना की। 
मधेश प्रदेश के वरिष्ठ पत्रकार व पत्रकार महासंघ के अध्यक्ष राजेश कर्ण को सम्मानित किया गया।  नेपाल के जनकपुर क्षेत्र के मीडिया संयोजक वरिष्ठ राजयोग प्रशिक्षक रामनाथ ने मीडिया द्वारा राष्ट्रीय स्तर पर शुरू किए गए अभियान के उद्देश्यों पर प्रकाश डाला। सभा अध्यक्ष के रूप में क्षेत्रीय प्रमुख ब्रह्माकुमारी सृजना दीदी जी ने वास्तविकता की याद दिलाई कि ब्रह्माकुमारी बहनें लंबे समय से लगातार प्रयास कर रही हैं और समय की पुकार सुनने का समय आ गया है। स्वागत भाषण ब्रह्माकुमार बबिन भाई जी द्वारा दिया गया और कार्यक्रम का संचालन ब्रह्माकुमार जगदीश प्रसाद यादव ने किया।
काठमांडू जोन में चल रहा दस दिवसीय मीडिया कैम्पेन का समापन समारोह जनकपुरधाम में संपन्न हुआ।
Previous articlePresident of India graces the National Launch of ‘Spiritual Empowerment for a Clean and Healthy Society’
Next articleHetauda Nepal : हेटौडा, नेपाल में मीडिया सेमिनार- Interactive Media Seminar