The First Lokpal of India Launches Brahma Kumaris 2019-20 Theme Project ‘God’s Power For Golden Age’

411
Mt Abu /Abu Road: India’s first Lokpal Honorable Justice Pinaki Chandra Ghose inaugurated  the Brahma Kumaris’  initiative project for the year 2019-20 ‘God’s Power For Golden Age‘ at magnificent Diamond Hall of Shantivan Campus here.

Justice Ghose appreciated greatly the services for humanity being done by the Brahma Kumaris. He said that the work on burning issues of today like environment and cleanliness is really needed. Association of Brahma Kumaris with the Swachh Bharat(Clean India) Mission cleanliness campaign is very effective in mobilization of resources and people in support of the initiative. Efforts of the Brahma Kumaris in yogic organic farming , water conservation, teacher training, de-addiction etc are valuable. 

He further said that he is sure that a day will come when Brahma Kumaris will be the guiding light to people of India in overcoming their difficulties. It is praiseworthy that a new initiative is launched every year. This year’s theme is also very relevant as it infuses new hope for the future of humanity. He expressed his hope of seeing the Brahma Kumaris at the top of the organizations working for world peace.

BK Nirwair, Secretary General, Brahma Kumaris, Mt Abu while congratulating everyone on the launch of this initiative said that the theme is important in today’s world where mental peace is the most sought after quality.

BK Mruthyunjyaya, Executive Secretary, Brahma Kumaris, Mt Abu welcomed Justice Ghose to the International Head Quarters of Brahma Kumaris, as this was his first visit here. He informed the esteemed guests how this theme will be taken to all corners of the world through conferences , seminars and discussions. He clearly enunciated the aim of the Brahma Kumaris to purify the mind with soul knowledge and become divine.

Justice V. Eshwariah, Former Chairman of National Commission for Backward Castes, BK Munni, Programs Manager of Brahma Kumaris, BK Shielu, Vice Chairperson of Education Wing  and Mr. M V Ramesh, Chief Judge of Hyderabad City Court also addressed the ceremony.

Hindi News:
नैतिकता और ईमानदारी मनुष्य की असली निधि, इससे समाज में सुधार सम्भव-घोष
डायमंड हॉल में परमात्म ज्ञान से नया युग विषय की भव्य लांचिंग
आबू रोड, 26 मई, निसं। समाज की जड़ में यदि भ्रष्टाचार का दीमक लगा है तो इससे समाज की तरक्की कभी नहीं होगी। बल्कि लगातार खोखला होता जायेगा। नैतिकता और ईमानदारी यदि समाज में आ जाये तो निश्चित तौर पर समाज में सुधार सम्भव है। उक्त उदगार देश के पहले लोकपाल पिनाकी चन्द्र घोष ने व्यक्त किये। वे ब्रह्माकुमारीज संस्था के शांतिवन में आयोजित वार्षिक थीम की लांचिंग कार्यक्रम पर में बोल रहे थे। 
उन्होंने कहा कि जहॉं मूल्य है वहॉं अपराध और अनैतिकता नहीं है। वैसे भी मनुष्य का पहल कत्र्तव्य  एक अच्छा परिवार और समाज बनाना है। ब्रह्माकुमारीज संस्थान समाज की बेहतरी के लिए लगातार प्रयास कर रहा है। हजारों लाखों लोगों ने अपने जीवन में सकारात्मक बदलाव किया है। पर्यावरण के साथ प्राकृतिक संसाधनों के संरक्षण के लिए भी कार्य कर रहा है जो समय की मांग है। 
इस अवसर पर ब्रह्माकुमारीज संस्था के महासचिव बीके निर्वेर ने कहा कि हमारे समाज में यदि भौतिक तरक्की के साथ आध्यात्मिक तरक्की को प्राथमिकता दी जाये तो इससे हम वर्तमान समाज की रूपरेखा को बदल सकते हैं। इसलिए यह प्रयास करना जरूरी है। 
समारोह में ब्रह्माकुमारीज संस्थान के कार्यकारी सचिव बीके मृत्युंजय ने कहा कि भयमुक्त समाज की परिकल्पना परमात्मा शक्ति से ही सम्भव होगी। परमात्मा शिव नयी दुनिया बना रहा है। वह नयी दुनिया होगी जिसमें किसी भी प्रकार की कोई अव्यवस्था नहीं होगी। 

कार्यक्रम में कार्यक्रम में राष्ट्रीय पिछड़ा आयोग के पूर्व अध्यक्ष जस्टिस वी ईश्वरैय्या तथा कार्यक्रम प्रबन्धिका बीके मुन्नी कहा कि हमारा देश सोने की चिडिय़ा कहा जाता था। वैसे ही दुनिया नयी बनानी है। इसलिए हमे अपने जीवन में मूल्यों को अपनाना है। इसके पश्चात अतिथियों को ईश्वरीय सौगात भेंटकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम का संचालन बीके शिविका ने किया।