Rajasthan Chief Minister Bhajan Lal Sharma addressed the Swarnim Bharat program

19
जहां शांति स्थापित होगी, वहां हमारा भविष्य होगा और देश-प्रदेश समृद्धि की ओर जाएगा: मुख्यमंत्री ब्रह्माकुमारी ने स्वास्थ्य, शिक्षा, समृद्धि और संस्कृति के उत्कर्ष के लिए मुहिम छेड़ी है: मुख्यमंत्री
– मुख्यमंत्री ने किया स्वर्णिम राजस्थान कार्यक्रम में संबोधित
– ब्रह्माकुमारीज की ओर से लगाई गई राजऋषि ग्राम प्रदर्शनी (गोकुल गांव, जल जन अभियान और श्री अन्न) का किया शुभारंभ
– भारतीय मजदूर संघ के 25वें वार्षिक अधिवेशन में भी लिया भाग

Abu Road:
मुख्यमंत्री भजन लाल शर्मा ने शनिवार को ब्रह्माकुमारीज़ संस्थान के मुख्यालय शांतिवन में आयोजित स्वर्णिम राजस्थान कार्यक्रम में शिरकत की। इसके पूर्व संस्थान द्वारा लगाई गई गोकुल गांव- सर्वांगीण विकास अभियान, जल जन अभियान और श्रीअन्न मिलेट्स अभियान प्रदर्शनी का शुभारंभ कर अवलोकन किया।
डायमंड हाल में सभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री शर्मा ने कहा कि ब्रह्माकुमारी संस्था ने लोगों के स्वास्थ्य, शिक्षा, समृद्धि, संस्कृति में उत्कर्ष के लिए एक मुहिम छेड़ी है। श्रीअन्न को कैसे बचाया जा सकता है उसकी लिए संस्था ने अभियान शुरू किया है। इससे निश्चित रूप से लोगों को मिलेट्स के बारे में जानकारी मिलेगी। जल जन अभियान से लोगों को जल संरक्षण के बारे में जानने को मिलेगा। जल संरक्षण आज की जरूरत है। इन सभी विषयों को लेकर संस्था जो कार्य कर रही है उसके लिए साधुवाद। कार्यक्रम में विशेष रूप से मंत्री ओटाराम देवासी, मुख्य प्रशासिका राजयोगिनी दादी रतनमोहिनी, संयुक्त मुख्य प्रशासिका राजयोगिनी मुन्नी दीदी मौजूद रहीं।यहां आकर सकारात्मक ऊर्जा मिलती है: मुख्यमंत्री
मुख्यमंत्री शर्मा ने कहा कि आज मेरे लिए बहुत गौरव और हर्ष का विषय है कि शांतिवन के आध्यात्मिक वातावरण में मैं आज यहां आया हूं। मेरा यहां कई बार आना हुआ है। यहां की व्यवस्था और संचालन देखकर कह सकता हूं कि जहां शांति स्थापित होगी, वहां ही हमारा भविष्य होगा। वहीं हमारा प्रदेश और देश समृद्धि की ओर जाएगा। यहां आकर के मुझे बहुत सकारात्मक ऊर्जा मिलती है। मन को बहुत शांति का अनुभव होता है। यहां के भाई-बहनों का अनुशासन और समर्पण सराहनीय है। ब्रह्माकुमारीज़ जैसी आध्यात्मिक संस्थाएं आगे आकार ग्रीन एनर्जी, यौगिक खेती, जैविक खेती के क्षेत्र में कार्य कर रहे हैं। ऐसी संस्थाओं के काम करने से निश्चित रूप से हमारा देश आगे बढ़ेगा। अच्छे वातावरण से देश को एक नई ऊंचाई मिलती है।

वर्तमान नया इनोवेशन का समय है-
मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान में अमृत काल का समय चल रहा है। हमारे प्रधानमंत्री जी ने कहा कि देश को आगे बढ़ाने के लिए एक सकारात्मक पहल होनी चाहिए। एक सकारात्मक वातावरण बने। सकारात्मक वातावरण के आधार पर नए-नए इनोवेशन हों। उसके आधार पर प्रदेश को एक नई ऊंचाई पर ले जाने का आधार बनें। हमारा देश सामाजिक, सांस्कृतिक, आर्थिक, वैज्ञानिक और मानसिक चेतना के विकास के लिए इस तरह के इनोवेशन होते रहते हैं। हमारा देश एक नया इतिहास लिखने की ओर बढ़ा है। हमारा युवा नशा की ओर बढ़ने लगा है। संस्था ने सरकार के साथ मिलकर हर क्षेत्र में कार्य किया है और कर रहे हैं। प्रधानमंत्री कहते हैं कि आम व्यक्ति उसकी सोच में परिवर्तन और वह आगे क्या कर सकता है तो वह अपना विचार हमें दे सकता है। यदि उसका विचार यदि हितकर है तो उसे हम इम्प्लीमेंट करेंगे।

आपका छोटा सा प्रयास किसी के जीवन में बदलाव ला सकता है-
मुख्यमंत्री ने कहा कि हम सभी इस देश और प्रदेश के नागरिक हैं हम उसका एहसास करें कि हमारा नागरिक होने के प्रति कर्तव्य क्या है? ऐसे एहसास के साथ हमारे पड़ोस, मोहल्ले और गांव में ऐसे व्यक्ति जो अंतिम पायदान पर खड़ा है उसकी मदद के लिए आगे आएं। एक अच्छे नागरिक बनने के कर्तव्य की ओर बढ़ें। हम उपयोगी बनें। हमारा छोटा सा कदम उसके जीवन में बड़ा बदलाव ला सकता है।

इन्होंने भी व्यक्त किए विचार-
– स्वच्छ भारत मिशन राजस्थान के ब्रांड एंबेसेडर एवं वन संरक्षण, महिला सशक्तिकरण में देशभर में ऐतिहासिक कार्य करने वाले जयपुर जिले की ग्राम पंचायत जाहोटा के सरपंच श्याम प्रताप राठौर ने कहा कि आज हमारा गांव जाहोटा देशभर में महिला सशक्तिकरण के लिए जाना जाता है। हमने अपनी पंचायत में 23 हजार पेड़ लगाए हैं। 108 जल संरक्षण के लिए तालाब, बांध आदि बनाए हैं। सामूहिक प्रयासों से ग्राम को आदर्श गोकुल गांव बनाने के लिए जी जान से जुटे हैं। यह संभव हुआ है तो स्व के परिवर्तन से। जब तक हम खुद को नहीं बदलेंगे तब तक हम समाज, देश और गांव को नहीं बदल सकते हैं।
– पुणे से आईं ग्रीन एनर्जी फाउंडेशन की फाउंडर शर्मिला ओसवाल ने कहा कि हमारे देशी और भारतीय अन्न मिलेट्स को आज नई पहचान मिली है। राजस्थान में पानी की कमी रहती है ऐसे में यहां बाजरे का उत्पादन करने से किसान भाई अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं। सामूहिक प्रयासों से हम राजस्थान को मिलेट्स के क्षेत्र में एक्सपोर्ट का हब बना सकते हैं। मेरे पास जब पहली बार प्रधानमंत्री कार्यालय से फोन आया तो यकीन ही नहीं हुआ कि प्रधानमंत्री मुझसे बात करेंगे। मेरा मानना है कि जब आप कोई कार्य पूरी लगन और शिद्दत से करते हैं तो उसकी सराहना जरूर मिलती है।
– ब्रह्माकुमारीज़ के कार्यकारी सचिव बीके मृत्युंजय भाई ने स्वागत भाषण देते हुए कहा कि परमात्मा के घर में मुख्यमंत्री का स्वागत वंदन है। आशा है कि आपके नेतृत्व में राजस्थान विकास की नई ऊंचाईयों को छुएगा। देश की समृद्धि और विकास में प्रदेश माडल बनेगा।
– जयपुर सबजोन की निदेशिका राजयोगिनी बीके सुषमा दीदी ने गहन राजयोग मेडिटेशन की अनुभूति कराई। वहीं बीकानेर से आईं बीके कमल दीदी ने विचारों का महत्व विषय पर प्रकाश डाला। मधुरवाणी ग्रुप के कलाकारों ने स्वागत गीत प्रस्तुत किया। संचालन शिक्षा प्रभाग की मुख्यालय संयोजिका बीके शिविका बहन और वरिष्ठ राजयोगी बीके सुधीर भाई ने किया।

भारतीय मजदूर संघ का कार्यक्रम-

शांतिवन के कॉन्फ्रेंस हॉल में भारतीय मजदूर संघ का 25 वां राष्ट्रीय अधिवेशन आयोजित किया गया। इसमें संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री शर्मा ने कहा कि हमारे लिए देश सबसे पहले है। राष्ट्र भावना काे लेकर हम कार्य कर रहे हैं। भारतीय मजदूर संघ का राष्ट्र के निर्माण में महत्वपूर्ण योगदान है। राष्ट्रवाद की भावना को लेकर हमारा मजदूर संघ काम कर रहा है। इस भावना का जागृत करने में हमारी पीढ़ियां खप गईं। स्वामी विवेकानंद ने जो सपना देखा था वह आज साकार हो रहा है, देश उस दिशा में आगे बढ़ रहा है। हमारे पांच हजार से ज्यादा ट्रेड यूनियनों से संबंध हैं। हम उन्हें भी आगे बढ़ाने का कार्य करते हैं।
इस दौरान मुख्यमंत्री का मजदूर संघ के पदाधिकारियों ने शॉल, मुकुट पहनाकर सम्मान किया। इस मौके पर मंत्री ओटाराम देवासी, राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के क्षेत्रीय प्रचारक निंबाराम जी, प्रदेश अध्यक्ष राजेंद्र सिंह डाबी,  मजदूर संघ के उपाध्यक्ष केपी सिंह, क्षेत्रीय संगठन मंत्री सीवी राजेश, प्रदेश महामंत्री हरिमोहन शर्मा, संघ के सिरोही अध्यक्ष गणेश सिंह गुर्जर, जिला मंत्री सुरेश प्रजापत सहित प्रदेशभर से आए एक हजार से अधिक संघ के पदाधिकारी मौजूद रहे।

कार्यक्रम की झलकियां-
– मुख्यमंत्री शर्मा ने अपने संबोधन में मुख्य प्रशासिका राजयोगिनी दादी रतनमोहिनी को जीवन के 100 वर्ष पूर्ण होने पर बधाई देते हुए कहा कि उस समय में जब संघर्ष भी रहा होगा, ऐसे समय में इतना बड़ा संगठन खड़ा करना और यहां तक ले जाना बड़ी बात है।
– मुख्यमंत्री ने राजऋषि ग्राम प्रदर्शनी का अवलोकन करते हुए इसकी सराहना की।
– मानपुर हवाई पट्‌टी पर भाजपा के वरिष्ठ पदाधिकारियों और ब्रह्माकुमारीज़ के कार्यकारी सचिव बीके डॉ. मृत्युंजय भाई, वरिष्ठ राजयोगी बीके प्रकाश भाई, पीआरओ बीके कोमल भाई ने स्वागत किया।
– सुरक्षा व्यवस्था को लेकर शांतिवन में चप्पे-चप्पे पर पुलिस बल तैनात रहा।
– डायमंड हाल में एक-एक व्यक्ति की चेकिंग के बाद ही एंट्री दी गई।
– मेडिकल विंग द्वारा वर्ष 2023-24 में की गई सेवाओं की सेवा रिपोर्ट और राजऋषि ग्राम सेवा योजना की रिपोर्ट का उद्घाटन किया।
– समारोह में मुख्यमंत्री और मंत्री ओटाराम देवासी का मुकुट, शॉल और मोमेंटो प्रदान कर सम्मान किया गया।
– दीप प्रज्वलित कर मुख्यमंत्री शर्मा, मंत्री देवासी और मुख्य प्रशासिका राजयोगिनी दादी रतनमोहिनी, संयुक्त मुख्य प्रशासिका राजयोगिनी मुन्नी दीदी ने कार्यक्रम का शुभारंभ किया।

Previous articleNational Media Conference & Retreat at Gyan Sarovar, Mt. Abu 23-27 May 2024
Next articleAbhi Sambhavna Hai (Prof. Kamal Dixit)