The Governor of Rajasthan started the program of planting 75 lakh saplings under the Kalp Taruh campaign.

214

देशभर में 75 लाख पौधे लगाने के अभियान का राजस्थान के राज्यपाल ने किया शुभारम्भ

माउंट आबू, ज्ञान सरोवर: राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र ने ब्रह्माकुमारीज संस्थान के ज्ञान सरोवर से 75 लाख लोगों द्वारा 75 लाख पौधे लगाने के अभियान का शुभारम्भ पौध रोपड़ कर किया.

राज्यपाल कलराज मिश्र ने कहा कि प्रकृति की रक्षा से ही मनुष्य की रक्षा हो सकेगी. पर्यावरणीय संकट का प्रमुख कारण प्रकृति से अपने आपको दूर कर पंचभूत तत्वों की उपेक्षा करना ही है. प्रकृति की उपेक्षा कर विकास को गति देने के प्रयासों और उपभोक्तावाद ने प्राकृतिक और जैविक आपदाओं को बुलावा दिया है. इससे इन संकट से उबरने में मदद मिलेगी. 

राज्यपाल जी ने  संतुलित विकास को बढ़ावा देने के लिए प्रकृति संरक्षण की सनातन भारतीय दृष्टि पर आधारित पर्यावरण अनुकूल नीतियों के निर्माण पर बल दिया है. उन्होंने कहा कि पंचभूत तत्वों पृथ्वीजलअग्निवायु और आकाश को महत्व देने वाली भारतीय सनातन संस्कृति प्रकृति पूजक रही हैतो इसके मूल में पारिस्थितिकी संतुलन बनाए रखने का वैज्ञानिक आधार है.

उन्होंने जैव विविधता को नष्ट होने से बचाने और पर्यावरण में असंतुलन को दूर करने के लिए उपभोक्तावादी जीवन शैली को बदलने का सभी से आह्वान किया. उन्होंने कहा कि विकास कार्यों और योजनाओं में अक्षय ऊर्जा, पर्यावरण सम्मत निर्माण कार्य, पेड़-पौधों और वनस्पतियों के संरक्षण की सोच को प्रमुखता दी जानी चाहिए. उन्होंने आह्वान किया कि हरेक व्यक्ति पेड़ लगाए और उसका संरक्षण करे.

राज्यपाल ने इस बात पर प्रसन्नता व्यक्त की कि ब्रह्माकुमारीज संस्थान ने आजादी से अमृत महोत्सव के तहत स्वर्णिम भारत के तहत  कल्प तरूह अभियान के अंतर्गत दादी प्रकाशमणि के स्मृति दिवस 25 अगस्त तक 75 लाख लोगों द्वारा 75 लाख मानवीय उपयोगी प्रजातियों के पौधे लगाए जाएंगे. उन्होंने कहा कि इन पौधों को लगाने के साथ ही बड़े होने तक उनकी पूरी देखभाल भी की जाए.

राज्यपाल इस विशाल पर्यावरण संरक्षण अभियान का हिस्सा बनने पर खुशी जाहिर करते हुए कहा कि ब्रह्माकुमारीज समाज देश व समाज को आध्यात्मिक क्रांति की उर्जा दे रही है. इस अवसर पर आबू रोड के तलहटी में ग्लोबल अस्पताल के ट्रमा सेन्टर में बन रहे 20 एकड़ में आरोग्य वन का शिलान्यास भी किया. इस मौके पर ब्रह्माकुमारीज संस्थान के कार्यकारी सचिव बीके मृत्युंजयसंयुक्त मुख्य प्रशासिका राजयोगिनी बीके संतोष, ग्लोबल हॉस्पिटल के डायरेक्टर डॉ प्रताप, बहन बीके शिविका, बहन बीके सुमन ने भी अपने अपने विचार व्यक्त करते हुए इससे मानव समाज के लिए जरूरी बताया. 

कल्प तरुह प्रोजेक्ट के तहत देशभर में 75 लाख लोगों द्वारा 75 दिनों में 75 लाख वृक्षारोपण का लक्ष्य रखा गया है. इसमें सबसे खास बात यह है कि इसके लिए एक मोबाइल एप भी बनाया गया है जिसमें पौधे दर्ज किए जायेंगे. इसके साथ ही यदि किसी को भी पौधे की जरूरत हो तो हेल्पलाइन बनाई गयी जिस पर कॉल करने से उसे पौधे उपलब्ध कराये जायेंगे। इसके साथ ही जो पम्पलेट बनाये गये है यदि कोई उसे फेंकता भी है तो वह व्यर्थ नहीं जाएगा बल्कि उससे तुलसी का पौधा निकलेगा क्योंकि वह पम्पलेट तुलसी के पौधे के बीज से बना है. 

Previous article“The Culture of Giving” 21 Days of Making (and Receiving) Gifts!
Next articleBrahma Kumaris Felicitated by the Union Minister for Tourism