20th National Transport & Travel Wing Conference on ‘Speed, Safety and Spirituality’ Inaugurated at Brahma Kumaris HQ, Abu Road

331

Abu Road (RJ): The Travel and Transport Wing of the Rajayoga Education and Research Foundation, in collaboration with the Brahma Kumaris, inaugurated the 20th National Conference cum Rajayoga Retreat on “Speed, Safety, Spirituality,” at the Diamond Jubilee Hall of Shantivan, Abu Road.

Chief Guest Mr. Ramesh Chandra Ratn, Chairman, Passenger Service Committee, Ministry of Railways, Delhi in his address said that the Brahma Kumaris Organization is the gist of all religions and works for bringing in a prosperous world. We must all support such initiatives aimed at the betterment of humanity.

Mr. Rajesh Kumar Kashyap, Divisional Railway Manager, Ajmer  said that one can benefit from spirituality even while taking care of one’s worldly duties. Meditation helps reduce stress and hence improves road safety.

BK Divyaprabha, Vice-Chairperson of the Travel and Transport Wing, Mumbai apprised everyone of the objectives of this conference.

BK Suresh Sharma, HQ Coordinator, TTW, Mt Abu in his address said that in spite of having the best of vehicles, accidents are increasing, because the mental condition of people today is not good. Rajayoga practice can help tackle this situation. This has been practically tested in pilot projects in different parts of India.

Prof. E.V. Swaminathan, Corporate Trainer from Mumbai  urged the audience to try and assimilate the Rajayoga Meditation Technique with full sincerity.

BK Munni, Programs Director of the Brahma Kumaris, Mt Abu  in her address, shared the teachings of Dadi Prakashmani and the vision of the organization with the audience. She urged everyone to benefit the most from this initiative.

Dr. BK Nirmala, Chairperson of the Travel and Transport Wing, Mt Abu said that meditation teaches patience and improves mental clarity and focus, thus reducing incidents of negligence in driving and road rage.

BK Kunti, National Coordinator of the Travel and Transport Wing, Mumbai coordinated the whole program and shared about the Meditation sessions, Self Development talks, and Exercise for fitness which were part of the conference program.


News in Hindi: 
सडक़, सुरक्ष और आध्यात्मिकता के सम्मेलन में जुटे देशभर के लोग
आबू रोड, 14 सितम्बर, निसं। चाहे सडक़  की यात्रा हो या जीवन की यात्रा दोनो में ही सुरक्षा महत्वपणर््ूा है। जीवन कीमती है इसलिए जीवन की सुरक्षा के लिए मन का संतुलन जरूरी है। उक्त उदगार रेलवे मंत्रालय भारत सरकार के पैसेन्जर सर्विस कमेटी के चेयरमैन रमेश चन्द्र रतन ने व्यक्त किये। वे ब्रह्माकुमारीज संस्था के शांतिवन में यातायात एवं परिवहन प्रभाग की ओर से सडक़, सुरक्षा और आध्यात्मिकता विषय पर आयोजित सम्मेलन को सम्बोधित कर रहे थे। 
उन्होंने कहा कि हम जल्दीबाजी में अपने मन का संतुलन खो देते है और फिर दुर्घटना में जान जान चली जाती है। इसलिए मन को शांत और संतुलित करना जरूरी है। ब्रह्माकुमारीज संस्थान इस क्षेत्र में सराहनीय कार्य कर रहा है। यहॉं के बहनों का त्याग और समर्पण का मिसाल बहुत कम जगह देखने को मिलता है। जो कार्य सरकार को करनी चाहिए वह ब्रह्माकुमारीज संस्थान कर रहा है। 
कार्यक्रम में अजमेर डिविजन के डीआरएम राजेश कुमार कश्यप ने कहा कि अध्यात्म की परिभाषा जिसने समझ ली उसी दिन ही उसका कल्याण हो जायेगा। अध्यात्म का अर्थ आत्मा के अध्ययन से है। जिसके अन्दर अध्यात्म की लौ जगी हुई है। वह हर स्थान पर सुरक्षित होगा। ब्रह्माकुमारीज संस्थान में राजयोग ध्यान की प्रक्रिया जिसके जीवन में होगी वह निश्चित तौर पर संतुलित और सुरक्षित होगा।
 
यातायात एवं परिवहन प्रभाग की अध्यक्षा बीके डॉ0 निर्मला ने कहा कि मन को स्वस्थ और शांत रखने के लिए प्रतिदिन राजयोग का ध्यान आवश्यक है। क्योंकि आध्यात्मिकता ही जीवन को सुखी और आनन्दायी बना सकती है। ब्रह्माकुमारीज संस्थान ने पूरे विश्व में लाखों लोगों को इसके प्रति जागरूक किया है। ब्रह्माकुमारीज संस्थान की कार्यक्रम प्रबन्धिका बीके मुन्नी ने लोगों से ज्यादा से ज्यादा संख्या में राजयोग और अध्यात्म से जुडऩे की अपील की।
कार्यक्रम में प्रभाग की राष्ट्रीय संयोजिका बीके दिव्य प्रभा ने कहा कि हमारा प्रयास है कि हर गाड़ी चालक राजयोग सीखे जिससे सडक़ दुर्घटनाओं में कमी आये। कई स्थानों पर हुए शोध से रचनात्मक परिणाम आये हैं। 
इस अवसर पर जिला परिवहन अधिकारी मनीष शर्मा ने कहा कि सडक़ सुरक्षा को लेकर ब्रह्माकुमारीज संस्थान बहुत ही एक्टिव रहती है। जितना जागरूकता का कार्यक्रम सरकार नहीं चलाती उससे ज्यादा तो ब्रह्माकुमारीज संस्थान चलाती है। इसलिए संस्थान का सहयोग करना चाहिए। कार्यक्रम में यातायात एवं परिवहन प्रभाग के मुख्यालय संयोजक बीके सुरेश शर्मा ने सडक़ सुरक्षा के क्षेत्र में हुए जागरूकता के बारे में अवगत कराया।
इस अवसर पर यातायात एवं परिवहन प्रभाग की वरिष्ठ सदस्या बीके कुन्ती, बीके कविता, बीके नीरजा समेत कई लोगों ने अपने अपने विचार व्यक्त किये। 
ये रहे उपस्थित। इस समारोह में एडीआरएम आदित्य मंगल, वरिष्ठ मंडल परिचालन प्रबन्धक जसराम मीना, वरिष्ठ डीसीएम महेश जवेलिया, मंडल इलेक्ट्रिक इंजिनियर पंकज मीना, वरिष्ठ मंडल सिगनल एवं टेलिफोन मैनेजर दीपक वर्मा, वरिष्ठ मंडल इंजिनियर बीजेपी के जिला उपाध्यक्ष विजय गोठवाल, अजयवाला समेत कई लोग उपस्थित थे।